पतञ्जलि योगसूत्र और व्यायसभाष्य

भूमिका
समाधिपाद